Sandhi – III

Online Education

4. यण संधि :- यदि प्रथम पद के अंत में  इ , उ , ॡ ( दीर्घ या ह्रस्व ) में से  कोई एक स्वर आये तथा दूसरे पद के प्रारंभ में कोई असमान स्वर आये तो इ को य् , उ को व् , ऋ को र् तथा ॡ को ल् हो जाता हैं
स्थिति :-
                                       
                     य्      व्        र्        ल्

पहचान :– य और व से पहले आधा अक्षर होगा
Trick :-   प  + र् +ई +अंटन  
               परि + अंटन  
                पर्यन्टन 
 Ex:- 

  1.  अधि  +आपक  = अध्यापक 
  2. प्रति + आशा = प्रत्याशा 
  3. प्रति + इक  = प्रत्येक 
  4. सू  + आदेश  = स्वादेश  
  5. अधि + एय  = अध्येय 
  6. देवी  + अर्पण  = देव्यर्पण  
  7. त्रि + अक्षर = त्र्यक्षर
  8. वि +आकुल = व्याकुल 
  9. परमाणु +अस्त्र =परमाण्वस्त्र
  10. नि +आय = न्याय 

 5. अयादि संधि :- यदि  ए , ओ , ऐ , औ के बाद असमान स्वर आये तो अय् , अव्, आय् , आव्  आदेश हो जाता हैं 

स्थिति :-

                     ए                  ऐ         

                   अय्       अव्      आय्      आव्

पहचान :– शब्द का उच्चारण करने पर अय् , अव्, आय् , आव् की ध्वनि उच्चरित होती हैं 


Trick :-   ग +आय् +इक   

               गै  + इक   
                गायक 

 Ex:- 
  1.  पौ + अक   = पावक  
  2. नै + इक  = नायक 
  3. पो + अन =  पावन 
  4. पो + इत्र  = पवित्र   
  5. विधे + अक = विधायक  
  6. धौ + अक = धावक 
  7. रौ + अन = रावण  
  8. दै  + अक  = दायक 
  9. नो + ईन  = नवीन 
  10. भौ + अना = भावना

Any Problem Comment Here             

    Please follow and like us:
    54

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *