Hindi Notes

varn vichar✪ वर्ण विचार :-


✪ वर्णो  की संख्या – 44 

✪ स्वरो की संख्या – 11 

✪ स्वरो का वर्गीकरण 


1 . मात्रा के आधार पर 

✪ ह्रस्व स्वर :- कम से कम समय में बोले जाते हैं | 
                   इनकी संख्या 4 होती हैं | 
                   इन्हे मूल स्वर, एकमात्रिक स्वर भी कहते हैं | 

✪ दीर्घ स्वर :-  ह्रस्व स्वर से ज्यादा समय लगता हैं | 
                   इनकी संख्या 7 होती हैं | 
                   इन्हे द्विवमात्रिक स्वर भी कहते हैं | 

✪ प्लुत स्वर :-  ह्रस्व स्वर व दीर्घ स्वर से ज्यादा समय लगता हैं | 
                   पहचान – स्वर के अंत में तीन ( 3 ) जैसा चिन्ह | 
                    उदाहरण :- मुर्गी की आवाज 

2 .  ओष्ठ  के आधार पर

✪ वृताकार :- होठ गोल आकृति में  हो जाते हैं | 
                 उदाहरण :- उ , ऊ , ओ , औ , ऑ ( आगत वर्ग )
✪ अवृताकार :- होठ फैल जाते हैं |  
                    उदाहरण :- इ ,ई ,ए ,ऐ , ॠ

व्यंजन:- ये 33 प्रकार के होते हैं | 


1. स्पर्श व्यंजन :-  क् से म् तक ( 25 )

2. अन्तःस्थ व्यंजन :- इनकी संख्या 4 होती हैं | 
                                य ,र ,ल ,व 

3. उष्म व्यंजन:- इनकी संख्या 4 होती है | 
                         श ,ष ,स ,ह 

4 . सयुक्त व्यंजन :- क्ष, त्र, ज्ञ ,श्र 

5 . उत्क्षिप्त व्यंजन / ताडनजात :- ड़ , ढ़ 

6 . प्रकम्पी  या लुंठित व्यंजन :- र 

7. पार्श्विक व्यंजन :- ल 


Please follow and like us:
54

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *